मंगलवार, 22 नवंबर 2011

रूकावट के लिए खेद है .. ब्‍लॉग4वार्ता .. संगीता पुरी

सभी पाठकों को संगीता पुरी का नमस्‍कार ,  उत्‍तर प्रदेश की सरकार के लिए आज का दिन काफी अहम दिन रहा। मायावती ने अपने राजनीतिक पैंतरों से विपक्ष को चारों खाने चित कर दिया। जी हां मायावती ने ध्‍वनि मत से उत्‍तर प्रदेश के चार टुकड़ों में बंटवारे के प्रस्‍ताव को पारित करवा लिया और विपक्ष हंगामा ही करता रह गया। हंगामा शेयर बाजार में भी मचा है , जहां वैश्विक बाजारों में कमजोरी के बीच विदेशी संस्थागत निवेशकों द्वारा सतत बिकवाली के चलते बंबई शेयर बाजार में गिरावट का दौर आज लगातार आठवें दिन जारी रहा जबकि सेंसेक्स 425 अंक और टूटकर 16,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे चला गया। इन मुख्‍य खबरों के बाद अब ब्‍लॉग जगत की कुछ पोस्‍टों पर एक नजर ...
ब्रह्म भावना*ब्रह्म भावना *** स्थिर नहीं है जग में कुछ भी, एक तत्व आकाश समान देह आदि मिथ्या लगते, जब शुद्ध ब्रह्म का होता ज्ञान मृतिका का घट मृतिका ही है, सत् से उत्पन्न जगत भी सत् सत् से परे न कुछ भी स्थित, तुम भ...आईने से डरती हूँ प्रेम करना भी एक अलग अहसास है ,मुझे लगता है मोह्हबत होने के लिए किसी एक शक्श का होना जरुरी नहीं होता...कुछ लोग बस मोहब्बत करने के लिए ही बनते हैं...वो एक शख्स उनकी जिंदगी में आ गया वो उसपर सारी मोहब्ब...नीड़ का निर्माण आधाबया ने भी ले लिया प्रण करेगा नीड़ का निर्माण खुद देखेगा - राधा बया कब तक रूकती है ....! ओह - *रश्मि प्रभा*  
वेशर्मी न हो तो नेता कईसन *चौबे जी की चौपाल * * * फूलपुर में राहुल की सभा में दबंग के चुलबुल पांडे टाईप मंत्रियों के द्वारा शांतिपूर्वक विरोध करने वाले लड़कों की पिटाई की बात सुनि के रामभरोसे एकदम सेंटिमेंटल हो गया और मुड़ि पीट...कमी नहीं होती ...कोई भी मंजिल अंतिम नहीं होती ज़िंदगी में लक्ष्यों की कोई कमी नहीं होती . मंजिल पाने के लिए निरतता* होनी चाहिए फिर रास्ते बनने के लिए पगडंडियों की कमी नहीं होती . पगडंडियों के लिए भी तितिक्षा* हो...
बधाई हो ! जन लोकपाल बिल बनने वाला है जी हाँ ! दोस्तो जन लोक पाल बिल बस कुछ ही दिनों में बन जायेगा। जैसा "सिविल सोसायटी ऑफ सेकुलरों" ने कहा है कुछ-कुछ वैसा ही बनेगा; शायद ! क्योंकि पढता कोई नहीं है इसलिए वैसा ही लगेगा। संसद में भी पास हो जायेग...
 
परिंदे की मौत जिन्दगी एक खुजली का नाम है। जब आत्मा को खुजली होती है तो वो किसी गर्भ में उतरती है और जिन्दगी की नौटंकी शुरू होती है। करोड़ों योनियां (जून या जन्म) हैं, करोड़ों भूमिकाएं। मुझे याद नहीं कि, यह तय करना अपने...हास्यकवि अलबेला खत्री का नया शाहकार 'हे हनुमान बचालो' अब बाज़ार में आने को तैयार *लीजिये प्यारे दोस्तों ! अलबेला खत्री हाज़िर है अपना नया ऑडियो एलबम लेकर...........जहाँ तक मेरा मानना है, इस नये सृजन को लोगों का भरपूर स्नेह मिलेगा और ये घर-घर बजेगा निवेदन यही है कि इस... 
FACEBOOK पर बैन नहीं लगाएगा कश्मीर सरकार *श्रीनगर*| जम्मू एवं कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर राज्य में प्रतिबंध लगाने लगातार ख़बरों के बीच कहा कि सरकार की कोई मंशा नहीं है। फेसबुक पर ईशनिंदा से सम्ब... 
चार जेपी और दो अन्ना पैग... मित्रों दो दिन पहले मैं कुछ दोस्तों के साथ यहां पांच सितारा होटल के बार में था। हमारा मित्र आस्ट्रेलिया से आया हुआ था, उसे वापस जाने के लिए रात तीन बजे की फ्लाइट पकड़नी थी, हम सबको साथ मिले भी काफी समय हो...
सिफर हो गई थी दुनिया सिफर था जिसपर करवट ली उसनें देखती रही कि जमीन और आसमान कही एक जगह पर डूब गये थे मौसमों के फेर बदल नें जमीन को गहरा और आकाश को और ऊँचा कर गया था क्षितिज के किसी कोनें में सांस ले रही करवट देख रही थ...

21 नवम्बर को - नजरिया वाले पवन कुमार - गीत कलश वाले राकेश खण्डेलवाल की वैवाहिक वर्षगांठ है बधाई व शुभकामनाएँ!!!!!!

9 टिप्पणियाँ:

सुन्दर लिंक्स से सजी रोचक वार्ता।

बहुत बढ़िया लिखा हे आपने

सुन्दर लिंक्स से सजी सुन्दर वार्ता.. मेरे ब्लॉग को भी शामिल करने का कष्ट करें ,मेरे ब्लॉग का पता है-
http://naiqalam.blogspot.com/

सुविचारनिये आलेख , मेरे ब्लॉग को भी शामिल करें- मेरे ब्लॉग का पता है-
http://dilkikashmakash.blogspot.com

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More