गुरुवार, 23 दिसंबर 2010

पराजित होती भावनाएं और जीतते तर्क - सब बदल गए - ब्लॉग 4 वार्ता - शिवम् मिश्रा

प्रिय ब्लॉगर मित्रो,
प्रणाम !

ब्लॉग 4 वार्ता  के इस मंच से आज सीधे चलते है ब्लॉग वार्ता की ओर !

सादर आपका


शिवम् मिश्रा

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

जिंदगी इतनी भी नहीं बेमानी! :- तो कितनी है ?


इलाहाबाद के 4000 एचआइवी पॉजिटिव लापता ! :- अरे पर कैसे ?


मीडिया के मतवाले महायोद्धा :- क्या कर रहे है ?


पराजित होती भावनाएं और जीतते तर्क :- भले के लिए हो तो ही भला !


ये दरवाजे !! :- कहाँ खुलते है ?


मॉल में एक दिन :- कैसा गया ?


डॉ अमर कुमार के लिए प्रार्थना - सतीश सक्सेना :- में हम भी साथ है !


क्या हम कुछ दिन प्याज खाना बंद नहीं कर सकते..? :- क्या पता ?


एक भावपूर्ण गीत..मन्नाडे दा का.... :- वाह क्या बात !


"एक बार स्त्री-मन मिले तो" :- क्या होगा ?


नई ग़ज़ल/ तलवारें है कागज की पर जुल्म मिटाने निकले हैं..... :- क्यों कि धार तेज़ है !


पुर्जा! :- मतलब ?


सब बदल गए :- वक़्त वक़्त की बात है !


"कुहरा छाया नील गगन मे" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक") :- गहरा है क्या ?


वार्षिक हिंदी ब्लॉग विश्लेषण -२०१० (भाग-७) :- आपका आभार !



~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

आज की ब्लॉग वार्ता बस यहीं तक ..... अगली बार फिर मिलता हूँ एक और ब्लॉग वार्ता के साथ तब तक के लिए ......
जय हिंद !!

18 टिप्पणियाँ:

ाच्छे लिन्क मिले हैं। धन्यवाद।

mazedaar charcha ... meri rachna shamil karne ke liye dhanyawaad

ब्लॉग वार्ता पर आना सुन्दर अनुभव रहा!
अच्छे लिंक्स मिले!
हमारी रचना को स्थान देने के लिए आभार!
सादर!

वार्ता मंच बहुत बढ़िया सजाया है!

shivam ji aapke links pesh karne ka tarika bahut bhata hai mujhe

अच्छे लिंक,उपयोगी चर्चा। शीर्षक के साथ की टिप्पणियों के कारण रोचकता पैदा हुई है। आभार।

शिवम भाई, इन थोडे किन्‍तु सार्थक लिंक्‍स को हम तक पहुंचाने का शुक्रिया।

---------
मोबाइल चार्ज करने की लाजवाब ट्रिक्‍स।

आप सब का बहुत बहुत आभार !


हाज़िर हूँ शिवम् सर !
देर से आने के लिए क्षमा चाहता हूँ ...ओवर टाइम में भी बैठ कर सारा पढ़ लूँगा ! प्रामिस !

बहुत सुंदर चर्चा जी, धन्यवाद

meri rachna ko shamil karne ke liye dhanyvaad...vaise yahan aakar kai nai baate/post/vishy jaanne ko mile..

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More