शुक्रवार, 19 नवंबर 2010

251वीं वार्ता::: एंट्री फ़ीस एक मिठटी सी मुस्कान बस:: चिट्ठाजगत का आभार

"एक दिन हिंदी चिट्ठाकारिता विश्व  की श्रेष्ठ होगी  "
                                           शिल्पकार का ज़ुनून सर चढ़ के बोला तय है कि कुछ न कुछ कमाल होगा ही . जिद्द का दूसरा नाम ललित-शर्मा है जैसा कि मैं अब तक समझ पाया. उनसे दोस्ती का श्रेय उनकी मूंछौं को जाता है. हम मज़ाक-मज़ाक में लिख मारे एक ठो पोस्ट उनकी मूंछ पे. बस फ़िर क्या था कि दोस्त बन गये..  मालूम हुआ वो आदमी सिर्फ़ ब्लागर नहीं मस्त-मौला शख्सियत का मालिक है . बात होते करते ब्लाग4वार्ता तक पहुंची. और शुरु हुआ सफ़र .आज मैं शिवम मिश्र जी के सहयोग से अजय  झा  जी  250 वीं वार्ता के बाद 251 वीं  लगा रहा हूं. सर्व-प्रथम चिट्ठाजगत के आभारी हैं हम जिन के ज़रिये हम पोस्ट/ब्लागों तक पहुंच पाते हैं. . साथ ही  इन को शुभकामनाएं देते है एक मिट्ठी-सी मुस्कान के साथ की एंट्री फ़ी लेकर हम आपको यहां आते रहने न्यौता एवम रोहतक जाने का संदेशा  दे रहें है
आज़ एक ब्लाग देशनामा की पोस्ट ज़रूर देखिये:-आज महफूज़ मियां पर मज़ेदार पोस्ट लिखने का मूड था...मकसद यही था कि गेयर बदल कर फिर स्लॉग ओवरिया माहौल बनाऊं...लेकिन इसे आज टाल दिया...दरअसल पिछले दो महीने से मैं एक चीज़ महसूस कर रहा हूं...शायद आपको भी हुई हो...लगता है ब्लॉगवुड किसी बुरी नज़र के साये में है...हो सकता है ये महज़ मेरा वहम हो...(ब्लॉगवुड को बुरी नज़र. देशनामा पर ..खुशदीप)
चालीस महारथियों सहित सभी सम्पूर्ण हिन्दी चिट्ठाकारो को हमारे हार्दिक शुभ कामनाएं 
1. ताऊ डाट इन
2. मानसिक हलचल
3. उड़न तश्तरी ....
4. ज्ञान दर्पण
5. लो क सं घ र्ष !
6. दीपक भारतदीप का चिंतन
7. दीपक भारतदीप की शब्दलेख-पत्रिका
8. हिन्द-युग्म Hindi Kavita
9. ललितडॉटकॉम
10. काव्य मंजूषा
11. शब्दों का सफर
12. उच्चारण
13. नुक्कड़
14. रचनाकार
15. भड़ास blog
16. कबाड़खाना
17. कस्‍बा qasba
18. राजतन्त्र
19. अनवरत
20. दीपक भारतदीप की शब्दयोग-पत्रिका
21. ब्लॉगोत्सव २०१०
22. PRAVAKTA । प्रवक्‍ता : Hindi Magazine : Hindi News : Hindi Newspaper, Hindi Website, Hindi Portal, Hindi Blog | हिन्दी : न्यूज़ पेपर, समाचारपत्र, मैगजीन, वेबसाइट, पोर्टल, ब्लाग
23. परिकल्पना
24. महाजाल पर सुरेश चिपलूनकर (Suresh Chiplunkar)
25. तीसरा खंबा
26. छींटें और बौछारें
27. चिट्ठा चर्चा
28. ओशो - सिर्फ एक
29. आरंभ Aarambha
30. सारथी
31. दीपक भारतदीप की शब्दज्ञान- पत्रिका
32. दीपक भारतदीप की शब्दलेख सारथी-पत्रिका
33. फुरसतिया
34. *************
35. समयचक्र
36. मेरी शेखावाटी
37. नीरज
38. कल्पनाओं का वृक्ष
39. धान के देश में!
40. नारी , NAARI
                    आज की वार्ता हमारे लिए इस कारण भी महत्वपूर्ण है कि ललित जी जो इस ब्लाग के प्रमुख सूत्र-धार हैं को इन चालीस चिट्ठों  के चिट्ठाकारों तथा आप सभी का असीम-स्नेह प्राप्त है और जो  सच मायने में हिंदी ब्लागिंग के  प्रोत्साहित करने वाला विषय है. आशा है जबलपुर,वर्धा,दिल्ली और रोहतक की उपयोगी चर्चाएं हिन्दी ब्लाग जगत को खासा लाभ देंगी.हमारी खुशी में शामिल होने का आभार
                                                                    एवम :-
                                                     हार्दिक शुभ कामनाओं के साथ

चर्चाकार-मंडली 
1 ताऊजी डॉट कॉम :-  ताउ रामपुरिया
2 यश की कविताये :- यशवंत मेहता
3 हँसते रहो :- राजीव तनेजा 
4 कुछ भी...कभी भी.. :-अजय कुमार झा
5 दुनिया मेरी नज़र से :-रुद्राक्ष पाठक
6 गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष :- संगीता पुरी 
7 उमड़त घुमड़त विचार :- सूर्यकांत गुप्ता 
8 ललितडॉटकॉम :- ललित शर्मा 
9 राजतन्त्र :- रजकुमार ग्वालानी 
10 मिसफिट:सीधीबात :- गिरीश बिल्लोरे मुकुल 
11 बुरा भला :-शिवम मिश्रा
12   मास्टरजी 


                                           

बी एस पाबला जी को मातृ-शोक वरिष्ट ब्लागर श्री महावीर शर्मा नहीं रहे 

मित्रो संघर्षों एवम  बेहद कठिनाईओं भरा रहा यह वर्ष   बी एस पाबला जी के लिये. आज दिनां क  18 नवम्बर 2010 को  उनकी सत्तर वर्षीया मातुश्री का दु:खद निधन ब्रेन-हेमरेज से हो गया. मातुश्री को अंतिम बिदाई  रामनगर मुक्ति धाम भिलाई में  19 नवम्बर 2010 को प्रात: 11:00 बजे दी जावेगी.    ब्लाग जगत की ओर से मातुश्री के आकस्मिक निधन पर गहन शोक संवेदनाएं . वाहे गुरु से पूज्य पिता श्री पाबला जी एवम बी०एस पाबला परिवार को गहन दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना  है. 

(अनवरत पर : ) 

                                      20 अप्रैल 1933 को जन्मे साहित्यकार एवम ब्लागर श्रीयुत महावीर शरण जी ( ब्लाग:-महावीरमंथन )का निधन  कल हो गया . उनके प्रति हमारी  विनत भाव पूर्ण श्रद्धांजलि 

19 टिप्पणियाँ:

बेहद दुखद समाचार मिल रहे है आजकल !
कुछ समझ नहीं आता कि यह क्या हो रहा है ....एक के बाद एक सब ऐसे ही समाचार मिल रहे है !!!!
पूज्या माता जी को हार्दिक भावभीनी श्रद्धाजलि !!
भगवान् से यही विनती है कि परिवार में सब को इस दारुण दुःख को सहने की शक्ति प्रदान करें !
ॐ शांति शांति शांति !!

गिरीश भाई, आपकी महेनत को सलाम पर क्या करूँ कि कुछ कहते नहीं बन रहा है मौजूदा हालातों में !

न कुछ मत कहिये
मां की छतरी सर से जाती है तो हम सिर्फ़ शरीर होते है
मै भी मां को खो चुका हूं

सादर श्रध्दांजली..........

पूज्य माता जी को विनम्र श्रद्धांजली |
आशा

विनम्र श्रद्धांजलि ...

पूज्या माता जी को हार्दिक भावभीनी श्रद्धाजलि !!

वाहे गुरू भाई पाबला जी और उनके परिवारजन को यह सदमा झेलने का हौसला बख्शे

दिवंगत माताजी को परम शान्ति प्राप्त हो यही अरदास करता हूँ

माताजी को विनम्र श्रद्धान्जलि...

माताजी को भावभीनी श्रद्धाजलि !!

पाबला जी की माताजी को विनम् श्रद्धांजली

पाबला जी की माताजी को विनम् श्रद्धांजली

ईश्वर पाबला जी को यह दुख सहने की शक्ति और उनकी दिवंगत माताजी की आत्मा को शांति प्रदान करें।

सचमुच पिछले दो दिनों से मिलने वाले शोक समाचारों ने मन को दुखी कर दिया है।

भगवान् unki aatma ko shaanti de...

पाबला जी की माताजी को भावभीनी श्रद्धांजली

विनम्र श्रद्धांजलि ...

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More