शुक्रवार, 4 जून 2010

दंगल की शुरुआत- ब्लागर जेल जाने-पंजीकरण करवाएं--- ब्लाग4वार्ता-----ललित शर्मा

दिल्ली यात्रा के दिनों में अखबार पढने का भी समय नहीं मिला। अभी घर पर सभी पुराने अखबारों को पढ रहा था तो पता चला कि मंगलुर में भयानक प्लेन दुर्घटना हुई। जिसमें लगभग 150से उपर लोग मारे गए। बहुत ही बुरा हादसा था। मैने भी इस रुट पर तीन हवाई यात्राएं की है। एर्नाकुलम से फ़्लाईट मंगलुर होते हुए ही मुंबई आती है और समुद्र पर ही उडान भरती है। मंगलूर की पहाड़ियां के बीच खतरनाक जगह पर ही है यह हवाई पट्टी। लेकिन जब मै आया तो मुझे खतरनाक नहीं लगी, लेकिन अब वि्शेषज्ञों ने कहा है कि खतरनाक स्थान है यहां विमान लैंड करना बड़ा मुस्किल है। अगर यही पहले समझते तो इतनी मौते ना होती। इनका जिम्मेदार कौन है? यह एक सवाल है। मै ललित शर्मा आपको ले चलता हुं आज की वार्ता पर....................

पहली पोस्ट लेते हैं  ब्लागरों के कुत्तों ने बनाया संगठन राजकुमार सोनी  बिगुल -पर---जी हां... यह सच है। अब यह जूनियर ब्लागर है या सीनियर यह तो मुझे नहीं मालूम लेकिन आज सुबह जैसे ही मैंने अपने घर में मौजूद बुद्धु बक्से के कान को उमेंठा तो अपने टकले के दो चार बालों को छिपाते हुए लोगों को क...ब्लॉग पर दंगल की शुरुआत --- माइक्रो पोस्ट इंटरनेट पर ब्लॉगिंग की सर्वप्रथम शुरूआत करने वाले का क्या मकसद रहा होगा ये तो पता नहीं पर ये जरूर पता है कि ये तो नहीं रहा होगा जो आजकल दिख रहा है। इन सब बातों पर ध्यान दिये बिना इसपर ध्यान दें तो आपका ... 

कविता का मौसम कविता का मौसम बस मुहाने पर ही है. गरमी तो वैसे भी कविता का पौधा सूख जाता है और बारिश के साथ लहलहा उठता है. सावन, बारिश, बरखा, मोर, मोरनी, झूला, छतरी, बदरी का आज भी, याने ए सी के जमाने में भी, बोलबाला बरक..."आचार्य जी" का प्राकट्य गीता के महात्म्य से कौन अनभिज्ञ होगा. हमने देखा आज कल ब्लॉग जगत में *"**आचार्य जी**" का प्राकट्य* यत्र तत्र सर्वत्र हो रहा है . स्वलिखित ग्रन्थ में सद्विचार की धारा प्रवाहित कर रहे हैं. आचार्य शब्द का प्र...

पांच माह में 500 पोस्ट नए साल 2010 में हमने अपने ब्लागों में पांच माह में करीब पांच सौ पोस्ट लिख डाली है। इस समय हमारे ब्लाग राजतंत्र और *खेलगढ़* के साथ अगर *ब्लाग 4 वार्ता* को मिला दिया जाए तो 1400 पोस्ट का आंकड़ा भी पार हो गया... अब सजेगी ब्लाग चौपाल हमने अब आपसी मतभेद से ऊपर उठते हुए एक ब्लाग चौपाल सजाने का फैसला किया है। इस चौपाल में हम हर उस ब्लाग को शामिल करने की कोशिश करेंगे जिस ब्लाग पर हमारी नजरें पड़ेंगी और जिस ब्लाग में अच्छा लेखन होगा। हमें इ...

आज हरि शर्मा का जनमदिन हैआज, 3 जून को नगरी-नगरी द्वारे-द्वारे वाले हरि शर्मा का जनमदिन है। इनका ई-मेल पता harisharmaster@gmail.com तथा मोबाईल नम्बर 0-9001896079 है। बधाई व शुभकामनाएँ वैसे, आज अरूण मिश्रा का जनमदिन भी है। *आन...खुशखबरी... खुशखबरी... खुशखबरी... ब्लोगिंग से कमाई शुरू
आप तो जानते ही हैं कि आजकल विज्ञापन का जमाना है और आप विज्ञापन के महत्व को भी अच्छी तरह से समझते हैं। ये विज्ञापन चीज ही ऐसी है कि किसी उत्पाद को बाजार में आने के पहले ही सुपरहिट बना देती है। अच्छे से अच्छ...

कुछ ब्लागर जैल जाने की कगार पर हैं !!!बलागजगत में मचे घमासान को देख कर ऎसा लग रहा है कि कुछ ब्लागर जैल जाने की कगार पर हैं !!! ... जैल कैसे ... क्या उन्होंने किसी का खेत काट लिया है ? ... या किसी की मोटर साईकल की टंकी से पेट्रोल चोरी कर लिया ह...ब्लागर मीट के आयोजकों मैं और नीरज जाटजी जब नांगलोई जाट धर्मशाला के सामने पहुंचें तो देखा श्री अविनाश जी बाहर ही खडे सब आने वालों का स्वागत कर रहे हैं। अन्दर पहुंचते ही श्री राजीव तनेजा जी और सुश्री संजू तनेजा जी एकदम दौडकर पा...

उद्योगपति है भाता , अपराध से है नाता एसईसीएल के सीएमडी एम.पी. दीक्षित रिश्वत लेते गिरफ्तार क्या हुए सारा संसार बताने वाले एक अखबार के मालिक की पोल खुलने लगी है। शराब के धंधे से अखबार के धंधे होते हुए लोहे के धंधे में आए इस अखबार मालिक का संबंध ...पूरे महीने दिलो दिमाग में दुर्घटनाओं का खौफ छाया रहा !! पिछले आलेख में मैने बताया कि इस बार की दिल्‍ली यात्रा मेरे लिए बहुत ही सुखद रही, पर पूरे महीने दिलो दिमाग में दुर्घटनाओं का खौफ छाया रहा। 5 मई को बोकारो से प्रस्‍थान की तैयारी में व्‍यस्‍त 4 मई को मिली एक ...

बेटा बीमार है .....मेरी दो बेटियां हैं ...बेटा नहीं मगर माँ , मम्मी , मॉम आदि संबोधन दिए बगैर भी सचमुच माँ जैसा ही सम्मान देने वाले बेटे कई हैं ...उनमे से एक बहुत ही प्यारा भोला भाला सा बेटा आजकल बीमार है ... अभी लगभग एक वर..."अच्छा, अमिताभ की तरह भगवान के पास जाकर बोल भी आया " रित्तु ने कहा "मेरा पूरा उत्साह ठंडा पड़ गया है .मै आखिर काम करू तो किसके लिए .डाक्टर साहब सबकी प्रेरणा होती है .जादातर लोग परिवार के लिए करते है .मेरी तो शादी होने का कोई ठिकाना दिख नहीं रहा है " दर अ...

बाद मुद्दत के पहलू में सनम आया है उसने हंसकर जब गले लगाया है आँखों में चाँद उतर आया है गालों में पड़े गहरे दो भंवर उनमें डूबकर कौन उबर पाया है कुछ हया उसकी अदा में शामिल है और कुछ अदा से वो शर्माती भी है कभी झिड़क देती है शरारत से कभ...अवसाद (डिप्रेशन) के लिये ली जाने वाली टैबलेट क्या संजीवनी है ?
अकसर मैं सोचता हूं कि यह कैसे संभव है कि डिप्रेशन के लिये ली जाने वाली गोली संजीवनी बूटी जैसा काम कर देगी और मूड को लिफ्ट करा देगी। वैसे तो मैं कहने को एलोपैथी से ही संबंधित हूं लेकिन पता नहीं क्यों कुछ तकली...

वैशाखनंदन सम्मान प्रतियोगिता मे : सुश्री वाणी शर्मा प्रिय ब्लागर मित्रगणों, आज वैशाखनंदन सम्मान प्रतियोगिता में सुश्री वाणी शर्मा की रचना पढिये. लेखिका परिचय .... नाम : वाणी शर्मा शिक्षा : एम . ए .(इतिहास ), एम . ए प्रिविअस (हिंदी ) साधारण गृहिणी ...पढने का ... जानवर....तुम महान हो चौराहे पर सेक्स करना जानते हो, तुम्हें बलात्कार करना नहीं आता. तुम विश्वास करना जानते हो, तुम्हें छल करना नहीं आता. तुम बोलना जानते हो, झूठे शब्द गढना नहीं आता. तुम्हारे पास बुद्धि है, तुम चालाकी नहीं जानते....

असली बुद्धिजीवी- नकली बुद्धिजीवी (ज़रा सी मसखरी)------------------>>>दीपक 'मशाल' बुद्धिजीवी!!! एक ऐसा शब्द जिससे मेरा तब पाला पड़ा जब उसका मतलब समझ में आने लगा था.. *असल में है क्या कि मैंने ये महसूसयाया है कि शब्दों का भी ज़िंदगी के सफ़र में पहिचान होने के आधार पर वर्गीकरण कर सकते ह... सोच रहा हूँ कि क्या लिखा जाए और क्यूँ लिखा जाए !!! अब इसे मौसम का असर कहा जाए कि माहौल का; पता नहीं क्यों अब कुछ भी लिखने पढने को मन ही नहीं करता. शायद ब्लागिंग का वो पहले वाला रस अब चला गया है. पहले कभी कुछ लिखते थे तो चाहे उसे पढने वालों को बेशक आनन्द न ... 

गीत/ पापी है वह गौपालक तो, जिसकी गैया हुई हलाल. कल रात नाली में गिरकर एक गर्भवती गाय की जान चली गयी. मै अपने आँसूं नहीं दिखा सकता लेकिन इस घटना ने मुझे कितना दुःख दिया, वह मेरी आहत-भावना को देख कर समझ सकते है. अब तक उबर नहीं पाया हूँ इससे. कल बेटे साहि... कुछ पोस्टें , देखी अनदेखी सी (पोस्ट झलकियां )- बीबीसी हिंदी ने अपने पत्रकार साथियों को अपने मन की बात अपने तरीके से कहने के लिए ,के लिए बीबीसी ब्लोग्स मंच प्रदान कर रखा है । इस मंच पर प्रतिदिन अलग अलग पत्रकार जो देश विदेश के अलग अलग कोने में अ...

लाली पूरब की ना खोए, नवजीवन का श्वास बहे...कुछ लाल रंग का उपयोग कर लिखा है उम्मीद है पसंद आये....हर पंक्ति में लाल शब्द या उससे जुड़े किसी शब्द का उपयोग किया है....एक छोटा सा प्रयोग और आवाहन... एक समय था लाली अद्भुत आसमान में सजती थी... सिंदूर...मेह की बाट पहली बरसात से पांखों के भीतर ...तक बूँदें जा ठहरी झटक कर चिड़िया मार मार चोंचे पंखों पर सूखाती वो बरसात ... फिर ....निहारती आकाश शायद ...आज आयें वे जाऊं जाकर सजा लूँ घोंसला बिछाकर नर्म नर्म ह...

पहली और अंतिम चेतावनी --- ब्लॉग पर बनने वालीं एसोसिएशन का पंजीकरण करवाएं ये बहुत हो गया ड्रामा, अब ये सब नहीं चलेगा। हाँ जी, सही कह रहे हैं, जिसे देखो वो ब्लॉग के नाम पर तमाम तरह की एसोसिएशन बनाने निकल पड़ा है। अब ऐसा ज्यादा नहीं चलेगा। कोई वरिष्ठ के नाम पर तो कोई जूनियर के न...इ..... सीनियर जूनियर का है ब्लाग जगत मा?: दिल्ली से योगेश गुलाटी आजकल ब्लागजगत में सीनियर जूनियर की चर्चा बडी जोरों पर है! बीते दिनों सुनने में आया कि जूनियर ब्लागरों ने अपना संगठन भी बना लिया है! भई हमारी तो कुछ समझ नहीं आया! इसलिये आज हमने निश्चय किया कि ज़्यादा से ज़्य...

आज का कार्टुन



अब देते हैं वार्ता को विराम-आपको ललित शर्मा का राम राम

16 टिप्पणियाँ:

आईये जाने ..... मन ही मंदिर है !

आचार्य जी

ब्लॉग-आन्दोलनकारी का खिताब तो मिल जायेगा ना!
इस शर्त पर
हम जेल यात्रा करने के लिए तैयार हैं!

jail jane ke liye ham teyarbahte he
]

bas aap ham par kon kon si dafa lagane wale ye bata de


@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@


bahut khub

kuch naya ho raha he hindi jagat me

बढ़िया चिट्ठाचर्चा

तोर चर्चा हा भाखा मा अतेक बढिया गुन्थाये रथे के जम्मो ल पढ डार अइसे लागथे। लेकिन ये टाइम बुजा हा सरकत जाथे। अब जाथौ। अउ ला बाद मा पढिहौ। जय जोहार्………।

बहुत बढ़िया चर्चा...

ब्लाग4वार्ता और ललित डॉट कॉम पर नापसंदी आतंकवादियों का धुंवाधार हमला जारी है। सभी मोर्चों से लगे हुए हैं,नापसंद के चटके लगाने में। हमारी पोस्ट को महत्वपूर्ण बनाने के लिए इन्हे शुभकामनाएं देते हैं तथा इनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं।

ब्लाग4वार्ता और ललित डॉट कॉम पर नापसंदी आतंकवादियों का धुंवाधार हमला जारी है। सभी मोर्चों से लगे हुए हैं,नापसंद के चटके लगाने में। हमारी पोस्ट को महत्वपूर्ण बनाने के लिए इन्हे शुभकामनाएं देते हैं तथा इनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं।

सुन्दर प्रस्तुति..बेहतरीन चर्चा! मेरे कार्टून को शामिल करने के लिए धन्यवाद !

सुन्दर प्रस्तुति |

मनभावन च जगभावन चर्चा!
बन्धुवर्! हमारी पोस्ट को चर्चा में सम्मिलित करने हेतु आपका अत्यधिक आभार :)

बहुत ही उम्दा चर्चा की आपने। कई अच्छे लोगों के बारे में जानकारी मिली। वैसे आपकी गिरीश पंकजजी वाली पोस्ट भी शानदार है। वहां भी अपने विचार छोड़कर आया हूं।

बहुत अच्छी ओर सुंदर जी

बढ़िया लिंक दिए हैं ललित भाई ! बहुत अच्छी चर्चा के लिए बधाई !

आपकी चर्चा हमेशा पढने लायक होती है.....कई ब्लॉग की जानकारी एकसाथ मिल जाती है.................आज हमारी दो पोस्ट को शामिल कर हमारी भी अहमियत बढ़ा दी....आपका आभार.......
जय हिन्द, जय बुन्देलखण्ड

फिल्म- देशप्रेमी
गीत-महाकवि आनन्द बख्शी
संगीत- लक्ष्मीकांत- प्यारेलाल
नफरत की लाठी तोड़ो
लालच का खंजर फेंको
जिद के पीछे मत दौड़ो
तुम देश के पंछी हो देश प्रेमियों
आपस में प्रेम करो देश प्रेमियों
देखो ये धरती.... हम सबकी माता है
सोचो, आपस में क्या अपना नाता है
हम आपस में लड़ बैठे तो देश को कौन संभालेगा
कोई बाहर वाला अपने घर से हमें निकालेगा
दीवानों होश करो..... मेरे देश प्रेमियों आपस में प्रेम करो

मीठे पानी में ये जहर न तुम घोलो
जब भी बोलो, ये सोचके तुम बोलो
भर जाता है गहरा घाव, जो बनता है गोली से
पर वो घाव नहीं भरता, जो बना हो कड़वी बोली से
दो मीठे बोल कहो, मेरे देशप्रेमियों....

तोड़ो दीवारें ये चार दिशाओं की
रोको मत राहें, इन मस्त हवाओं की
पूरब-पश्चिम- उत्तर- दक्षिण का क्या मतलब है
इस माटी से पूछो, क्या भाषा क्या इसका मजहब है
फिर मुझसे बात करो
ब्लागप्रेमियों... आपस में प्रेम करो

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More