सोमवार, 14 जून 2010

टन्न और चियर्स --प्रियतम होते पास अगर----ब्लॉग 4 वार्ता---ललित शर्मा

दो दिनों की यात्रा के कारण वार्ता लिखने में चूक हो गई, अभी समय मिलते ही कुछ चिट्ठों के लिंक आप तक पहुचाते हैं. चलते हैं आपके साथ ब्लॉग 4 वार्ता पर तथा पेश करते हैं कुछ चिट्ठे.........

पहला चिटठा लेते हैं क्या आपने कभी देखा है ऐसा सम्मलेन ? कवि सम्मलेन और लोकतंत्र, हर बार लोगों को ठगने के बावजूद अपनी लोकप्रियता और आम जन की आस्था के कारण अस्तित्व में बने रहते हैं | शहर में विराट कवि सम्मलेन का आयोजन होने जा रहा है इसे कई दिनों से प्रचारित औ...झप्पी से जुड़ते हैं दिल संजय दत्त ने मुन्नाभाई एमबीबीएस में हिंदुस्तानियों को कुछ नए शब्द दिये हैं. एक है-जादू की झप्पी, हमारे यहाँ किसी के स्वागत में उससे गले मिलने की रवायत पुरानी है, अब विज्ञान ने इस बात पर ...

औजार के प्रति लगाव  JAPANI MAUSI KI बात कल जापान के वैज्ञानिक उपग्रह, क्षुद्रघह अंवेषी, हायाबुसा 7 सालों के बाद अंतरि क्ष से वापस आया। सालों अनेक काम करके आखिर वायुमंडल में आकर जल गया। इस हायबुसा को भूरि प्रशांसा करते आवाज़ जापान में भरा था। ज़र... अम्माजी का लचीलापन (लघु कथा ) अम्माजी की तीखी आवाज़ घर से सटे छोटे से किचन गार्डेन से पार होती हुई पूजा करती हुए शुभी के कानों तक पहुंची । कल ही गाँव से आई है अम्माजी और आज सुबह सुबह पूरे घर की व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए किचन गार...

प्रियतम होते पास अगरप्रियतम होते पास अगर मिट जाती है प्यास जिगर ढ़ूँढ़ रहा हूँ मैं बर्षों से प्यार भरी वो खास नजर टूटे दिल की तस्वीरों का देता है आभास अधर गिरकर रोज सम्भल जाएं तो बढ़ता है विश्वास मगर तंत्र कैद है शीतल घर म...पहली बार दारु.. मैगी, सुट्टे के बाद(झाँसी के किस्से... हास्य से)--------->>>दीपक 'मशाल'  . अब जब मैगी और सुट्टे के प्रथम पान की कथा आपसे बिन पूछे ही कह सुनाई तो सोचता हूँ कि मदिरापान पुराण क्यों छोड़ा जाए??? वैसे भी इस मामले में मैं मोतीलाल नेहरु जी को ठीक मानता हूँ कि जब गांधी जी ने उनसे एक बा...

भारत में कुपोषण चिन्ता ही नहीं चिन्तन भी कीजिये श्रद्धा मंडलोई की रिपोर्ट में वे कहतीं हैं "यूनिसेफ के मुताबिक विकसित देशों में 150 मिलियन (15 करोड़) बच्चे कुपोषण का शिकार हैं। जैसाकि हम सभी जानते हैं भारत दक्षिण एशिया में बसा हुआ है, जहां करीब 78 मिलि... ताऊ पहेली - 78 (Hazarduari Palace Museum, Murshidabad ) विजेता श्री Smart Indian - स्मार्ट इंडियन  प्रिय भाईयो और बहणों, भतीजों और भतीजियों आप सबको घणी रामराम ! हम आपकी सेवा में हाजिर हैं ताऊ पहेली 78 का जवाब लेकर. कल की ताऊ पहेली का सही उत्तर है Hazarduari Palace Museum, Murshidabad (West Bengal) और इ...

जीवन..... पुनर्निर्माण के दौराहे पर पिछली पोस्ट से लगातार (५) खट्टी मीठी जिंदगी के टेढ़े मेढ़े रास्तों पर, मीठे मीठे सपनो की बात ही न्यारी है/ जिंदगी के साथ साथ जनम लेते हैं सपने, सपनो ... घर में जगह ए़क घर बनाया है हमने भी रख कर सपनो को गिरवी घर में जुटाई जरुरत और गैर जरुरत के सामान कुछ सुविधाएँ और कुछ देखा देखी ख्याल रखा घर कैसा लगेगा दोस्तों की नजरों में फिक्र की कैसा लगेगा घर पडोसी की नजरों में ब...

टन्न और चियर्स ! एक साथ ऊपर उठकर हवा में छलकते पैमाने, मदयम 'टन्न' की स्वर लहरी, चेहरे पे मंद-मंद बिखरती सारे दुःख-दर्द , ग़मों पर मानो कोई विजयी मुस्कराहट , और मटकती आँखों का वो नशीला अंदाज ! मुद्दत से, सोचता हूँ पता नहीं क्...तू तो यशोदा है मगर मैं कृष्ण न बना...जब भी मैं गिरा आँख से आँसू तेरे गिरा... मुझको जो सदा थामता आँचल का वो सिरा... शीत मे छाती से वो चिपका हुआ बचपन... वो गोद मे तेरी कहीं दुबका हुआ बचपन... मैं चल रहा समेटते यादें यूँ अनमना... तू तो यशोदा है ...

जन जन तक ज्‍योतिष के ज्ञान को ले जाने का प्रयास - ३ आज एक बार फिर से शीर्षक में परिवर्तन करते हुए पिछली कडी को आगे बढा रही हूं। हमारा सामना अक्‍सर कुछ वैसे लोगों से होता है , जो ऐसे तो कभी ग्रहों या ज्‍योतिष पर विश्‍वास नहीं करते , पर जब कभी लंबे समय तक चलन...शहरोज़ भाई को समर्पित एक कविता...खुशदीप दो दिन से मेरठ था...आज आकर नेट खोला तो *सतीश सक्सेना* भाई की पोस्ट और *अविनाश वाचस्पति* भाई की ईमेल...*शहरोज़* भाई को लेकर पढ़ीं...तब से मन इतना खट्टा है कि बता नहीं सकता...देश के सिस्टम पर क्रोध भी बड़ा आ...

सेटिंग और दलाली का मजा... राज्य बनने के पहले भोपाल के पत्रकारों और पत्रकारिता की स्थिति को लेक रायपुर में अक्सर निंदा की जाती थी कि वहां किस तरह की पत्रकारिता होती है कैसे पत्रकार दो-पांच के लिए मंत्रियों और अधिकारियों से सेटिंग कर ...अब आया ऊँट पहाड़ के नीचे अब आया ऊँट पहाड़ के नीचे* हमें क्या मालूम था, लोगों के आशीर्वाद मिल रहते थे वे थे सब "छद्म" और थे हम आँख मीचे अब न रहेगा बांस ना रहेगी बांसुरी "*घुरुवा" *हट जाएगा हम तो लेते हैं विदा इस ब्लॉग की दुनिया से, ...

जिंदगियाँ सँवारने वाला हो तलाक कानून डॉ. महेश परिमल* हिंदू विवाह कानून में संशोधन को केंद्र ने मंजूरी दे दी है। इसके अनुसार एक साथ रहते हुए दंपति को लगे कि अब साथ-साथ रहना मुश्किल है, तो उन्हें आराम से तलाक मिल जाएगा। देखा जाए, तो तलाक एक ऐ... हमें तो सिर उठाकर जीने की आदत है ~~~ माना कि आप कद में मुझसे बहुत बड़े हो* *पर मेरे सामने तो सिर झुकाये खड़े हो * *हमें तो सिर उठाकर जीने की आदत है* *रास्ता दीजिये मुझको, क्यूँ रास्ते में अड़े हो * **  गुगल सर्च से स...

ब्लोगर महान नहीं होता, महान होता है पोस्ट सीनियर ब्लोगर, जूनियर ब्लोगर, बड़े ब्लोगर, छोटे ब्लोगर, महान ब्लोगर .... आखिर क्या है यह? ब्लोगर महान होता है या उसका पोस्ट उसे महान बनाता है? हमारा तो मानना है कि सिर्फ रचना ही छोटी, बड़ी या महान होती है जो...ओह ले भाई, हम्बै, हरियाणवी मखौल आज की पोस्ट श्री ताऊ रामपुरिया जी, श्री ललित शर्मा जी, श्री राज भाटिया जी, श्री डाO टी एस दराल जी, श्री मो सम कौन जी, श्री नीरज जाट जी और हरियाणवी पसन्द करने और समझने वालों के लिये स्पेशली प्रकाशित की है। ...

अब लेते हैं विराम ---आप सभी को ललित शर्मा का राम राम

10 टिप्पणियाँ:

अच्छे लिंक्स..बढ़िया चर्चा

एक बेहद उम्दा चर्चा ! बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएं!

ओह .. आज तो चर्चा करने का दिन मेरा था .. भूल हो गयी .. बहुत ही अच्‍छी चर्चा !!

... ये तो बाजाफ़ाड चर्चा है ... बधाई ललित भाई!!!!!!!

अच्छी चर्चा रही आपकी..
आभार...

अच्छी चर्चा रही आपकी.

बढ़िया चिट्ठाचर्चा

महराज पाय लागी। थूक के चाटे बरोबर आ गेंव झन समझबे। तोर परेम हा बलाइसे ए मेरन। जम्मो लिन्क ला करीब करीब पढ डारेव्। अब जाथौ।

lalit bhai...mere chitthe ko shamil karne kaa aabhaar...

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More