शनिवार, 17 मार्च 2012

तबीयत मिलती है नदिया के पानी से... ब्लॉग4वार्ता....संध्या शर्मा

संध्या शर्मा का नमस्कार...  इधर ललित डॉट कॉम के 1,00,000 पाठक पूरे हुए और उधर प्रणव दा बजट लेकर आ गए। संसद में बजट का पुलिंदा उठाए मुस्काते हुए प्रवेश किया और सबसे पहले घरेलु गैस की मुल्य वृद्धि का जुगाड़ लगाया। खाने का तेल, मसाले, दूध, बटर, ब्रेड, अनाज का मुल्य बढाकर सीधा आम आदमी के पेट पर प्रहार किया। टी वी, एल सी डी सस्ता किया, डी जी पी ग्रोथ 11% बताई जा रही है साथ ही यह भी बताया कि प्रति व्यक्ति आय 17% बढी है। सब आँकड़ों का खेल कर गरीबों की भूख के साथ छल करने प्रयास है……… हर बजट में मंहगाई बढती है……कभी कम  होने का नाम ही नहीं लेती…… प्रस्तुत  आज की ब्लॉग4वार्ता पर, प्रस्तुत है मेरी पसंद के कुछ ब्लॉग...

चैट की बत्ती बनी जीवन दीप --- ललित शर्मा 
*राहुल शर्मा* की *आत्महत्या* समाचार मुझे फ़ेसबुक पर किसी की वाल पोस्ट पर देखने मिला। एक बारगी तो मेरे दिमाग में सन्नाटा छा गया। इस खबर ने हिला कर रख दिया म... 


मन की आँखों से रंगों का एहसास
रंग लगते ही खिल उठे चहरे होली उमंग और जोश का पर्व है . हम अपने उमंग और जोश का ईजहार रंग व गुलाल से करते है. यह जानते हुए भी कि बाजार में मिलने वाले अधिका...

एस. के. पाण्डेय के दोहे
दोहे-(५) नेता कहते पूत से प्रजातंत्र को मूल । फूल सूल में भेद नहि बको उलूल-जुलूल ।। हमको कुछ नहि हरज है देश जाय जो भाड़ । यसकेपी नेता नहीं हम हैं देश उजाड़...

चचा ग़ालिब (२) : मैं दिल हूँ, फ़रेबे-वफ़ा-ख़ुर्दगाँ का
नकारात्मक/बदतर/अशिव/तुच्छ के प्रति दाय रखना बड़ा काम है, नामुमकिन सा! धर्मवीर भारती के 'अंधायुग' में कुछ ऐसा ही सवाल था कृष्ण से, 'आस्था तुम लेते हो, लेगा... 

.एक नया वादा कर ले
अपनी तन्हाइयों का मुझसे सौदा कर ले आज दिल कहता है एक नया वादा कर ले बहुत हुए रेशमी साए जुल्फों के तेरे शानो पर सपनीली आँखों को चल धूप में सूखा कर ल...

JIGSAW PUZZLE....... 
 *पता नहीं डायरी के ज़्यादातर पन्ने उदास क्यूँ होते हैं???? या शायद हम उदासी में ही अपनी भावनाएं कागज़ पर उतारते हैं....क्योंकि खुशियाँ बांटने वाले तो कई मिल जाते हैं........* *सो पढ़िए- मेरा और एक उदास दिन. .

यूपी : चेहरा बदला चरित्र नहीं ...
*मैं *हमेशा से इसी मत का हूं कि चेहरा बदलने से चरित्र नहीं बदल सकता। हां अगर कोई चरित्र में बदलाव कर ले, तो चेहरा खुद बखुद बदला बदला सा लगता है। ताजा उदाहरण है उत्तर प्रदेश में पूर्ण बहुमत से सरकार बनाने ...

बेटी या बहू ? - सतीश सक्सेना
*आज गुरदीप सिंह, अपनी सोफ्टवेयर इंजीनियर बेटी को लेकर घर आये थे , वे अपनी बेटी को गौरव और विधि से मिलवाना चाहते थे जिससे उनकी बेटी को भविष्य में अपने कैरियर को, लेकर उचित मार्गदर्शन मिल सके !* *हाथ में टे...

बांके पिया कहो हां दगाबाज़ हो ... 
ये सिलसिला सन 2006 की भीषण गर्मियों के दरम्यान शुरू हुआ था ! वैसे वो दोनों एक ही गांव में जन्मे और पले बढ़े थे पर यह साल कुछ खास साबित हुआ कि , जब दोनों न... 

साँस दर साँस हुई मेरी नीलामी
कशमकश मे फँसी मछली सी ये तन्हा जिंदगी मिली मुझको!! खाती रही धोखे ही ता उमरा कोई न समझ पाया मुझको !! न अपना सकी ज़माने को न ज़माने ने अपनाया मुझको !! य... 

वफ़ा ....... 
* मरने की दुआ दे वो कोई अपना ही होगा,* * दुश्मन को क्या खबर कि कहाँ जी रहे हैं हम !* *  

नहीं मिलती कहीं राहत जहाँ में , ग़म के मारे को 
मेरी तबीयत भी मिलती है नदिया के पानी से, जो पल में बदल देती है अपने धारे को | इस रास्ते मैंने गुज़ारे कई सफ़र तन्हा , मगर दिल ढून्ढ़ता है आज किसी सहारे को |...  

 कार्टून:- यू.पी. में खूंटा-बदल के दिन आए
 यू.पी. में खूंटा-बदल के दिन आए रे

भारत का रत्न – सचिन! 
*भारत का रत्न – सचिन!* आज बजट आया। बहुत से सपने चूर-चूर हो गए। आज ही सचिन ने शतक जड़ा। हमारे सपने पूरे हुए। शतकों का शतक जड़ने के बाद सचिन ने कहा, “सपन...

*शतकों का शतक महाशतक बनाम सचिन तेंडुलकर * *क्रिकेट इतिहास में आखिरकार वो दिन आ ही गया, जिसका इंतजार सचिन तेंडुलकर के प्रशंसको को पिछले एक साल से थी। मीरपुर में बांग्लादेश के खिलाफ सचिन तेंडुलकर ने अपना 10...
 
महाप्रलय से भयभीत न होना रच दूंगी संसार निराला दुनिया की तस्वीर बना दूँ जो रंग कोई हो भरने वाला महाप्रलय से भयभीत न होना रच दूंगी मैं संसार निराला सतरंग...   
 
अब लेते हैं आपसे विदा मिलते हैं, अगली वार्ता में, नमस्कार........

8 टिप्पणियाँ:

ललित जी को बधाई ..
एलेक्‍सा रैंकिंग में भी उनका अच्‍छा स्‍थान है ..
अच्‍छी वार्ता के लिए आपका आभार संध्‍या जी !!

बहुत सार्श्क वार्ता |
बधाई १००००० रीडर्स के लिए |
आशा

ललित जी को लखपति बनने की बधाई.

suder warta ke liye badhai sandhya ji..

मेरे ब्लॉग लिंक को आपने वार्ता में स्थान दिया……आभारी हूँ

एक और उम्दा लिंक्स, एक और उम्दा चर्चा।

बहुत सुन्दर लिन्क संयोजन

बधाई ललित जी को.
बढ़िया लिंक्स.

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More