गुरुवार, 12 अप्रैल 2012

प्रिया हो तुम रंगरेजन सी...........ब्लॉग4वार्ता -- ललित शर्मा

ललित शर्मा का नमस्कार, इंडोनेशिया के सुमात्रा में आए भूकम्प के झटकों  की धमक भारत में भी महसूस की गयी। बस्तर के सुदूर इलाके में भी धरती 3 मिनट तक हिलते रही। जगदलपुर से 14 किलोमीटर दूर डिमरापाल में  नवनिर्मित मेडिकल कॉलेज में मजदूरों ने 3 मिनट तक कम्पन महसूस किया। मजदूरों जब इसकी जानकारी साईट इंजीनियर को दी, तब काम बंद करके सभी मजदूरों को बाहर निकाला गया। किसी जान माल की हानि होने की सूचना नहीं है। प्रस्तुत हैं कुछ फ़टाफ़ट लिंक ब्लॉग नगरिया से…………

उगना... - ' न...अब सांस लेने की कोई गुंजाइश नहीं बची. जीने का जी नहीं करता कि अब सीने में कोई ख्वाहिश नहीं उगती...न ख्वाब आते हैं नींद के गांव में... जीवन अब सहा न... सावधान इंटरनेट पर सीआईए आपकी जासूसी कर रहा है - * कल तक इंटरनेट परआनंद और स्‍वाधीनता के दि‍न थे। अब खतरा सामने आ गया है। अमेरि‍की गुप्‍तचर संस्‍थासीआईए ने अपने पैर इंटरनेट पर रख दि‍ए हैं। सीआईए की नजर... देवेन्द्र कुमार पाठक' का एक ग्रीष्म-गीत - तीन पात ढाक के - ~ ¤ ~ ¤ ~ ¤ ~ तीन पात ढाक के - - - - - - अंधड़ हम तपते बैसाख के. वर्षोँ की इस लंबी जाग का, सारे ऋण-योग, गुणा-भाग का; हासिल, बस तीन पात ढाक के ! दिन-दुपहर,... 

सिगरेट और तेरी याद - तुम्हारी याद.... सिगरेट के धुंए सी... कपड़ों ,बालों,उँगलियों तक बस जाने वाली...है . रग-रग में दौडती है जानलेवा ज़हर सी हरेक आती-जाती सांस के साथ अंदर उतर...आज तुम्हारा अस्तित्व प्रश्नचिन्ह बन गया है ? - कभी कभी लगता है तुम भी एक छलावा हो -कान्हा नहीं है तुम्हारा कोई अस्तित्व ये सिर्फ हमने ही तुम्हें एक रूप दिया है तुम्हारा एक वर्चस्व कायम किया है वरना... हे सीता - सीता तुम थी शक्ति फिर क्यों दी अग्निपरीक्षा यदि न रहती मौन तब तुम बच जाती फिर कितनी सीता वन वन भटकी थी तुम पतिव्रत धर्म निभाने को कठिन समय में त्याग...

 कार्यरत इंजन की आवाज - इंजन शक्ति का प्रतीक है, इंजन विकास की अभिव्यक्ति का प्रतीक है, इंजन गतिमयता का स्रोत है, इंजन विज्ञान के दंभ से ओतप्रोत है। इंजन को जब भी देखता हूँ तो अभ... ---कहीं ऐसा न हो .... - कहीं ऐसा न हो .... अत्युक्ति में सुन्दरतम सत्यों का कुरूपतम उपयोग अदम्य अभियान न हो जाए अतुष्टि से भाग्य के ढाँचे में अकर्मण्यता ढलकर सतत अनुष्ठान न हो जा... प्रिया हो तुम तो रंगरेजन सी..तुमको पत्थर रंगना आता !! - मेरी अनकही बातो को तुम्हे समझते देखा है.......!!! - *मेरी हर आहट पर तुम्हे ठहरते देखा है..... * *मेरी धडकनों के साथ,* *तुम्हारी धडकनों को धड़कते देखा है....* *सबसे नजरे बचा कर,* *छु... 

छत्तीसगढ़ी - बोली और भाषा में क्या फर्क है, लगभग वही जो लोक और शास्त्र में है। भाषा के लिए लिपि और व्याकरण अनिवार्य मान लिया जाता है, लेकिन जरूरी नहीं कि वह पृथक लिपि ह...  जी हां ! आज है मेरा जन्मदिन ... - जी हां ! आज मेरा जन्मदिन है। सोचा तो था कि धूमधाम से जन्मदिन मनाऊंगा, खूब हंगामा बरपाऊंगा, कोशिश करुंगा कि पूरा परिवार मेरी इस खुशी में शिरकत करे, क्योंकि... बेघर अरमान - ● बेघर अरमान ● अरमानों का क्या है जी....... वो तो होते ही हैं बाजारों के खैरख्वाह...... इन्हें हावी न होने दो दिल पर........ उनका बेघर होना फिर वक्ती रस्... 

समन्दरों के उधर से कोई सदा आयी ..... - "कहीं रहे वो मगर खैरियत के साथ रहे उठाये हाथ तो लब पर यही दुआ आयी ..." - परवीन शाकिर मैं अकेला भला था .... - दोस्तों दर्द-ए-दिल का पैमाना जब छलकता है तो जज्बातों की बरात कुछ यूँ शोर करती है... ज़रा गौर फरमाइयेगा .... प्यार के बदले में खरीदा उसने और मुझे हासिल समझ... अखबारों का छपना देखा - मुस्कानों में बात कहो चाहे दिन या रात कहो चाल चलो शतरंजी ऐसी शह दे कर के मात कहो जो कहते हैं राम नहीं उनको समझो काम नहीं याद कहाँ भूखे लोगों को उनका कोई नाम...

आगरा- बरेली पैसेंजर ट्रेन यात्रा - इस यात्रा वृत्तान्त को शुरू से पढने के लिये यहां क्लिक करें। 21 मार्च 2012 को मैं आगरा में रितेश जी के घर पर था। वे एक ब्लॉगर हैं और यात्रा वृत्तान्त लिखते ... निवेशकों के लिए अच्‍छी खबर .. शेयर बाजार की स्थिति में सुधार होना चाहिए !! - 9 अप्रैल 2012 को इस हफ्ते के पहले कारोबारी दिन में एशियाई बाजारों में जारी मुनाफावसूली के असर से भारतीय शेयर बाजारों में गिरावट दे्खने को मिला। लगभग डेढ मह...खूँखार कुत्तों के खिलाफ - अक्सर डरती हैं औरतें धकेलती हैं खुद को दूर वे खुद ही हटती हैं पीछे लेकिन अब परवाह नहीं है अब औरत ये जानती है सिंहासन केवल पुरुष का नहीं वह भी लड़ रही ह...   

वार्ता को देते हैं विराम, मिलते हैं ब्रेक के बाद राम राम तब तक इधर पढिए

6 टिप्पणियाँ:

बहुत अच्छे लिंक्स...जिंदगी का उगना प्रभावित कर गया ... जिंदगी उगेगी बढ़ेगी फूलेगी और फिर फलेगी...सुन्दर वार्ता के लिए आभार

सन्ध्या जी
शीर्षक बनाने का आभार

बढिया वार्ता ..
सुंदर लिंक्‍स !!

उंदा वार्ता |अच्छी लिंक्स |
आशा

indonesiya kai bhookamp ka prabhav bharat par bhi hoga

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More