शुक्रवार, 23 जुलाई 2010

1088 नाबाद (रेल के खेल का स्कोरकार्ड) - आखिर क्या मजबूरी है, ममता बहुत जरूरी है - ब्लॉग 4वार्ता - शिवम् मिश्रा

प्रिय ब्लॉगर मित्रो
प्रणाम !

कैसे है आप सब ? लीजिये मैं फिर से हाज़िर हूँ आप सब के लिए एक और ब्लॉग वार्ता ले कर अपने इस ब्लॉग 4वार्ता के मंच से !

आशा है आप सब को यह ब्लॉग वार्ता पसंद आएगी !

आपका

शिवम् मिश्रा

-------------------------------------------------------------------------------------------------------

सच मेरे यार हैं - भाग 3 :- चलो कुछ तो कहानी आगे बड़ी !

सूरज के अंधेरों से... :- क्या कहने !

पिछले डेढ़ महीना-बिरह का महीना :- हाय राम !

1088 नाबाद (रेल के खेल का स्कोरकार्ड) :- सब रिकॉर्ड टूटेगे लगता है !

ऐसी होती है सच्ची पत्नी...खुशदीप :- कैसी ??

विकास --कितने पास , कितने दूर ----- :- यहाँ तो दूर ही दूर है !

पाबला जी से मिलन और बड़े गुरुजी हुए साठ के --------ललित शर्मा :- यानि के डबल मज़ा !

हर शाख पर उल्लू बैठा है :- अंजामे गुलिस्तान क्या कहिये ?

छत्तीसगढ़ में भी होता खिलाड़ियों का यौन शोषण :- अरे नहीं ...........??

१० बातचीत बंद पर बातें चालू. :- क्या मतलब ??

११ यह ग़ैर मुमकिन है :- तो मुमकिन क्या है ?

१२ २२ जुलाई झंडा दिवस पर विशेष.... :- जय हिंद !

१३ झिड़कियाँ...हँसने के लिए ... :- बहुत जरूरी है !


१४ मेरी सासू माँ....ससुराल बेला फूल ... :- भाई वाह !

१५ पता नहीं मां सावन में,यह ऑंखें क्यों भर आती हैं - सतीश सक्सेना :- यह महीना ही ऐसा है !

१६ राजनीति के बहाने छिछोरेपन का नंगा नाच :- यहाँ तो रोज़ होता है !

१७ सिगरेट का असली नशा तो धुआँ अंदर लेने पर ही होता है, और असली नुक्सान भी। …। अपने किस्से … विवेक रस्तोगी :- ले हमको तो पता ही नहीं था !


१८ बडबोले धोनी को मुरली का करारा जवाब :- मान गए जनाब !


१९ अजीब शहर है ये दिल्ली लोग बेगाने से लगते हैं, :- हम ने तो कुछ और ही सुना था !

२० आखिर क्या मजबूरी है, ममता बहुत जरूरी है :- कुछ तो मजबूरी जरूर होगी !

२१ जावेद अख्तर की तरकश से एक और ख़ूबसूरत तीर :- सीधा दिल के पार गया यह तो !

२२ क्यों दिखती नहीं वो.. :- क्या पता !

२३ पर मुझे देने के लिए, उसके पास खैरात नहीं :- क्या बात है !

२४ खेलों का टिकट साथ तो मुफ्त होगा मेट्रो का सफर :- एक के साथ एक मुफ्त ??

२५ ये कहाँ का नंबर है?इस नंबर की गाड़ी कौन सी शहर की है?ये कहाँ का पिन कोड है? अब इन सारे सवालो का जवाब है इस वेबसाइट के पास वो भी मुफ्त :- काम की बात !

२६ गुरुमंत्र ..... कुत्ता बना आदर्श ! :- हद है !

२७ कार्टून:- भारतीय रूपये के निशान का पाकिस्तानी तोड़.... :- यह नहीं सुधरेगे !

२८ चाहें तो कई युग लग सकते हैं चाहें तो कुछ पल भर ही! :- बदलाव जरूरी है !

२९ क्यूँ ना बदल दें अपने ब्लॉग को वेबसाइट में :- व्हाट एन आईडिया, सर जी !

३० सितारों की महफ़िल में आज दिगंबर नासवा :- आइये मिलते है !

३१ धर्म - आदत, मजबूरी, डर ??? :- या राजनीती ??

३२ सचिन का 'खून' ले लो! :- बस किसी नेता का ना हो !

३३ पहले दर्द हुआ है पैदा, पीछे मर्द हुआ है :- यह कैसे पता चला ?

३४ पाबला जी - गेट वेल सून ! :- शुभकामनाएं आप भी दे आयें !

३५ एक सवाल - क्यों कहें हम इन्हें माननीय? :- आप बताइए ??

३६ आ गया है क्या जमाना. :- बहुत बुरा है जी !

३७ विधानसभाएं बन रही हैं जंग- ए- मैदान! :- खुदा महेरबान तो गधा पहेलवान !

छपते छपते :- एक बेहद दुखद सूचना :-

The flower of jannah एक मासूम कली हमारे आंगन में खिली, हमारे घर को महकाया और फिर जन्नत का फूल बन गई। हमारे दिल उसकी यादों के नूर से हमेशा रौशन रहेंगे . - Anwer जमाल :- इस दुःख की घडी में हम सब आपके साथ है !

-------------------------------------------------------------------------------------------------------

आज की ब्लॉग वार्ता बस यहीं तक |

ईश्वर से यही विनती है कि डॉ. अनवर जमाल और उनके पूरे परिवार को इस सदमे से उबरने की शक्ति और नन्ही बिटिया अनम की आत्मा को शांति प्रदान करें |

शांति शांति शांति !

जय हिंद !!

27 टिप्पणियाँ:

विनम्र विनती है कि भगवान से कि वो यमराज न बना करे।

सारे लिंक्स यही से विजिट किये. आभार,

Dr. Anwar Jamaal..ke samast pariwaar ke liye hamari prarthna ...
iishwaar unhein shakti de..

सुरुचिपूर्ण संकलन !

ईश्वर से यही विनती है कि डॉ. अनवर जमाल और उनके पूरे परिवार को इस सदमे से उबरने की शक्ति और नन्ही बिटिया अनम की आत्मा को शांति प्रदान करें |

ॐ शांति शांति शांति !

डॉ जमाल और उनके परिवार के लिए ह्रदय से दुःख व्यक्त करना चाहता हूँ ...
चर्चे में लेख शामिल करने का शुक्रिया ...

ईश्वर मृतात्मा को शांति दे एवं परिजनों को दु:ख से उबरने की शक्ति।

मेहनत से की गयी चर्चा के लिए आभार।

ham is dukh ki ghadi me khuda se dua karte hain ki vah us maasoom ko apne pyaar se navaaze........

अच्छे लिंक्स ...
ईश्वर जमाल जी के शोक संतप्त परिवार को शक्ति दे ..!

अनम चली गयी ईश्वर उसके माता पिता को तसल्ली दे ! इस बच्चे को महत्वपूर्ण जगह देने के लिए आपका आभार शिवम् भाई !
ईश्वर आपकी सम्वेदनाशक्ति बनाए रखे !

... ईश्वर जमाल जी के शोक संतप्त परिवार को शक्ति दे!!!

वार्ता में मेरी भी पोस्ट सम्मिलित करने के लिए आपका आभार.

बढिया सुरूचिपूर्ण वार्ता....
आभार्!

बेहतरीन लिंक्स मिले ...बढ़िया वार्ता.

अनवर जमाल के पूरे परिवार को हार्दिक संवेदना...अल्लाह उन्हें इस असहनीय दुख को सहने की क्षमता प्रदान करे.

सुन्दर चर्चा...धन्यवाद शिवम् जी ।

sir hamesha mujhe apni varta mein shamil karne ke liye tahe-dil se aabhar :)

अरे वाह, इसमें तो आपने हमारी पोस्ट की भी चर्चा की है, शुक्रिया।
………….
ये ब्लॉगर हैं वीर साहसी, इनको मेरा प्रणाम

इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.

मासूम बच्चों का क्या गुनाह होता है जिन्हें इतनी जल्द वापस जाना पड़ता है। पता नहीं यह कैसा न्याय है उस जन्म देने वाले का।

डॉ ज़माल की नन्ही बच्ची का सुनकर दुःख हुआ ।

मैं अपने सभी साथियों, भाईयों और बुजुर्गों का तहे दिल से शुक्रगुज़ार हूं।
अनम की मौत ने हम सबको अहसास दिलाया है कि ज़िन्दगी महज़ चंद रोज़ा है, अस्थायी है । हमें यहां से जाना है।
काश ! हम यहां से वह ‘ज्ञान‘ लेकर जाएं जो हरेक अंधेरे को मिटा दे और हमारे दिलों में मालिक और उसके बंदो की मुहब्बत के चिराग़ जला दे।
आदमी के दिल में मुहब्बत हो तो फिर उसे दुख भी लज़्ज़त देने लगते हैं। जो मुहब्बत करता है वह इस लज़्ज़त को जानता है।
कुरआन मजीद में आस्तिक का एक प्रमुख गुण यही मुहब्बत बताया गया है। http://ahsaskiparten.blogspot.com/2010/07/extreme-love-anwer-jamal.html

आप सब का बहुत बहुत आभार !

टिप्पणी पोस्ट करें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More