सोमवार, 30 अगस्त 2010

कुछ ख्याल - चलती फिरती ब्लोगिंग !!! - ब्लॉग 4 वार्ता - शिवम् मिश्रा

प्रिय ब्लॉगर मित्रो ,
प्रणाम !
'हॉकी के जादूगर' ध्यानचंद के जन्म दिन पर 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जाता है। हॉकी हमारा राष्ट्रीय खेल भी है। 

हाकी के जादूगर ध्यानचंद की उपलब्धियों को पेले, माराडोना और डान ब्रैडमेन के समकक्ष बताते हुए पूर्व दिग्गजों ने उन्हें देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' दिए जाने की मांग की है। उनका यह भी कहना है कि भारतीय हाकी की सुध लेकर ही इस महान खिलाड़ी को सच्ची श्रृद्धांजलि दी जा सकती है। तीन ओलंपिक [1928, 1932 और 1936] में स्वर्ण पदक जीतने वाले करिश्माई सेंटर फारवर्ड ध्यानचंद को पद्मभूषण से नवाजा जा चुका है हालांकि हाकी समुदाय का कहना है कि उनकी उपलब्धियों को देखते हुए उन्हें 'भारत रत्न' मिलना चाहिए।

अगर किसी प्रधानमंत्री को भारत रत्न दिया जा सकता है ........ किसी प्रधानमंत्री के घुटनों को बदलने वाले डाक्टर को भारत रत्न दिया जा सकता है ...........तो फिर मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न क्यों नहीं दिया गया अब तक ??
वह कौन से मानक है जिन से सरकार यह निर्धारित करती है कि किस को कौन सा सम्मान देना है  और कब देना है ?? 
कौन है जो जवाब देगा इस का ??
खैर जवाब तो शायद ही कभी मिले !
फिलहाल ब्लॉग 4 वार्ता  मंच के पूरे वार्ता दल की ओर से  हाकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को शत शत नमन !
अब चलते है आज की ब्लॉग वार्ता की ओर .....इस आशा के साथ कि आज कि वार्ता भी आप सब को पसंद आएगी ! 
सादर आपका 

-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------




















मुश्किल :- बहुत बड़ी है क्या ?


हम ध्यान चंद को भूले :- शायद आप सही है !


कुछ ख्याल.... :- आते है !

आगरा में संपन्न ब्लोगर्स मीट के फोटोग्राफ्स :- आप भी देखिये !

आज सारिका सक्सेना का जनमदिन है :- बधाइयाँ जी बधाइयाँ !

मॉरिशस से नौ कविताएँ :- भाई वाह !

चकमित पत्नी!! :- यह क्या है भाई जी ?

तुम्हारी चैट :- शुरू हो गयी !

ब्लाग आखिर क्या है? :- अपनी बात कहने का जरिया !

तुम्हें देख मधुपों का गुंजन :- होने लगा !

दबी होती है चिंगारी, धुँआ जब तक भी उठता है :- सही कह रहे है !

बस आज की ब्लॉग वार्ता यहीं तक पर चलते चलते अपनी डफली आप बजाता हूँ और आपको अपनी एक पोस्ट का लिंक दिए जाता हूँ :- 

मेजर ध्यानचंद को भी मिले भारत रत्न !! :- जी जरूर मिलना ही चाहिए !! 
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
अगली बार फिर मिलेगे एक और ब्लॉग वार्ता के साथ तब तक के लिए ........


( कुछ तकनीकी कारणों से आज की ब्लॉग वार्ता अपने निर्धारित समय पर प्रकाशित नहीं हो पायी है - आप सब पाठको को हुए कष्ट के लिए खेद है ! )

जय हिंद !!

21 टिप्पणियाँ:

ये सही कहना है कि भारतीय हाकी की सुध लेकर ही इस महान खिलाड़ी को सच्ची श्र्रद्धांजलि दी जा सकती है .. पूरी वार्ता बहुत अच्‍छी रही .. आपका आभार !!

हाकी के जादूगर ध्यानचंद जी के जन्मदिवस पर उनको मेरा शत शत नमन और श्रधांजलि! आपने उनके जन्मदिवस पर बहुत ही सुन्दर लेख प्रस्तुत किया है ! ये सवाल तो आपने सही पूछा है कि आख़िर ध्यानचंद जी को भारत रत्न क्यूँ नहींदिया गया जब की प्रधानमंत्री या डॉक्टर को भारत रत्न मिला पर इस "क्यूँ" का जवाब बड़ा ही मुश्किल है! आज का ब्लॉग वार्ता बहुत पसंद आया! बेहतरीन प्रस्तुती!

हाकी के जादूगर ध्यानचंद जी को नमन ... बरसाती चिट्ठी को सम्मिलित करने के लिए आभार ... बहुत बढ़िया काफी लिंक मिले...

ध्यानचंद के बारे में पढ़ कर अच्छा लगा और मेरी पोस्ट को अपनी इस चर्च में जगह देना का शुक्रिया !

हाकी के जादूगर ध्यानचंद जी के जन्मदिवस पर उनको मेरा शत शत नमन और श्रधांजलि...
बढ़िया लगी आपकी ये चिट्ठाचर्चा

हाकी के जादूगर ध्यानचंद जी को नमन ॥

शिवम् जी,

जितना सुन्दर आपका मन है, उतनी ही सुन्दर चर्चा है।

अच्छे लिंक्स मिले।

बहुत आभार।

कविसम्मेलन की वीडियो क्लिप्स देखने में बहुत आनंद आया |
ध्यानचंद जी से मैं पहले मिल चुकी हूं |आज भी उन्हें लोग वहाँ हॉकी का जादूगर मानते हैं |जन्मदिन पर शुभकामना|आपको बढ़िया चर्चा के लिए बधाई |
आशा

shivam ji.......truley thankful to you.. :)

सदा की तरह आज का भी अंक बहुत अच्छा लगा।

बहुत बढ़िया वार्ता ...ध्यानचंद जी को नमन ...भारत रत्न के लिए सिफारिश होनी चाहिए ...

hamesha ki tarah achchhe links hai. rochak prastuti ka zavab nahee.

तो फिर मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न क्यों नहीं दिया गया अब तक ? सवाल सबका है

shivam jee,

मेरी पोस्ट को चर्चा के लिए चुनने के लिए बहुत बहुत आभार. वैसे मैं समझती हूँ कि हमारे इतिहास को भी कभी विषय बनाना अच्छा होता है. बहुत सी बातों से हम वाकिफ नहीं होते तो पढ़ कर अच्छा लगताहै.

आप सब का बहुत बहुत आभार !!

shivam bahut bahut dhanyvad. achchha laga tumhaara chunav.

वाह, कम समय में बहुत अच्छी वार्ता लगाई शिवम जी।
आपको बहुत बहुत साधु्वाद

वाह, कम समय में बहुत अच्छी वार्ता लगाई शिवम जी।
आपको बहुत बहुत साधु्वाद

बहुत बेहतरीन वार्ता..अब चमकित क्या है यह तो मैं नहीं ही बताऊँगा. :)

हाकी के जादूगर ध्यानचंद जी के जन्मदिवस पर उनको मेरा शत शत नमन और श्रधांजलि.

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More