रविवार, 24 अक्तूबर 2010

आओ बच्चो तुम्हें दिखाएँ झांकी ब्लोगिस्तान की - ब्लॉग 4 वार्ता - शिवम् मिश्रा


प्रिय ब्लॉगर मित्रो,
प्रणाम !

भारतीय शोधकर्ता हरि कृष्णा प्रसाद वेमुरू को भारत में इलेक्टॉनिक वोटिंग मशीन [ईवीएम] में खामी का दावा करने पर भले ही जेल जाना पड़ा लेकिन अमेरिका में इसके लिए उन्हें एक प्रतिष्ठित सम्मान से नवाजा जाएगा। सैन फ्रांसिस्को स्थित शीर्ष नागरिक स्वतंत्रता संगठन 'इलेक्टॉनिक फ्रंटियर फाउंडेशन' ने हरि कृष्णा को वर्ष 2010 का पायनियर अवार्ड देने की घोषणा की है।

संगठन के एक बयान में कहा गया है, 'हरि कृष्णा प्रसाद वेमुरू एक भारतीय शोधार्थी हैं जिन्होंने हाल ही में ईवीएम में सुरक्षा खामियों को उजागर किया था। भारतीय चुनाव प्रणाली में इस्तेमाल हो रही ईवीएम की पहली स्वतंत्र सुरक्षा समीक्षा के लिए उन्हें जेल की सजा काटनी पड़ी। उन्हें बार-बार पूछताछ का सामना करना पड़ा और राजनीतिक उत्पीड़न का शिकार बनाया गया।' यह पुरस्कार 1992 से दिया जा रहा है। हरि कृष्णा के साथ इस साल यह पुरस्कार पारदर्शिता कार्यकर्ता स्टीफन आफ्टरगुड, ब्लॉगर पामेला जोंस और जेम्स बॉयल को भी मिलेगा। इन सभी को 8 नवंबर को सैन फ्रांसिस्को में एक समारोह में यह पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

शायद इसके बाद हरी कृष्णा जी को कुछ राहत मिले और सरकार का उनके प्रति रवैया भी बदले !

ब्लॉग 4 वार्ता के पूरे वार्ता दल और आप सभी की ओर से मैं श्री हरी कृष्णा को हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं देता हूँ !


आइये अब चलते है आज की ब्लॉग वार्ता की ओर ...... आशा है आपका रविवार सुखद बीते !


सादर आपका


शिवम् मिश्रा


-------------------------------------------------------------------------------------------------


लोकतंत्र के थर्मामीटर ईवीएम पर एक और सवालिया निशान? :- किस ने उठाया ?


ऐसा भी होता है --कुछ दिलचस्प ख़बरें --- :- जल्दी सुनाइए !


कविता जब सर चढ़ कर बोलती है तो कवि-सम्मेलन का आलम कितना दिव्य हो जाता है, ये कल रात बड़ौदा में देखा - अलबेला खत्री :- क्या बात है !!


स्वप्न वासवदत्ता - अंक 6 (संस्कृत नाटक का संपादित सरल हिन्दी रूपान्तर) :- आभार !


तुम्हारे नाम................................ :- है ज़िन्दगी !


तेरा दीदार :- कब होगा ?


क्या हिन्दुस्तान आजाद है ? पहले मुग़ल , फिर अंग्रेज़ और अब कांग्रेसी मानसिकता के गुलाम हैं हम :- कटु सत्य !


ताऊ पहेली - 97 :- बूझो तो जाने !


दूध मत पीयो, सब्जी मत खाओ :- पिज्जा ...पास्ता और बर्गर है ना !


“हिन्दुत्व” पढ़ाने वाले भारतीय स्ंस्कृति के विद्यालयों की कमी क्यों है, हमारे भारत् में..? :- आप बताओ !


क्यों लोग मनाते दीवाली ? -सतीश सक्सेना :- दिवाला मनाया नहीं जाता !


ये देश है वीर जवानों का--भारतीय सेना को सलाम----------ललित शर्मा :- ताक़त वतन की इन से है ....!!


क्या ब्लॉगरों को बिन माँगी सलाह नहीं देनी चाहिए? लिंक भेजे जाने पर ही टिप्पणी देनी चाहिए? :- लगता तो यही है !


आपके लिए कैसा रहेगा 23 और 24 अक्‍तूबर 2010 का दिन ?? :- राम जाने ....या आप जाने !


वो मेरे प्रेरणा श्रोत और जर्मनी के एकीकरण की २० वीं वर्षगाँठ :- हम्म !!


बैंगन की डंठल... :- बड़े काम की !


एक और लम्बी ग़ज़ल/ रचा हुआ ही बचा रहे......... :- उसमे ही भलाई है !


डेंगू क्या सच में एक बीमारी है? :- सुना तो यही था !


विदेशी पैसों पर पल रहे सेकुलर-वामपंथी बुद्धिजीवियों का एक और प्रपंच :- "कारवाँ टू फ़िलीस्तीन"… Gaza, Israel, Indian Secularism, Kashmir :- कहाँ हुआ ?


ब्लॉगिंग की भुट्टा-कथा...खुशदीप :- आप भी सुन लीजिये !


"सुमन दुनिया को छलता है!" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक") :- रिपोर्ट की जाए सुमन की ?


आओ बच्चो तुम्हें दिखाएँ झांकी ब्लोगिस्तान की ... :- जय हो !


क्या आप जानते है कि हमारे देश में कौन,कब और कितने दिनों तक राष्ट्रपति रहें हैं? :- आइये जाने !


कैसे हुआ मूवी का नामकरण :- आइये जाने ! :- पंडित जी आये होंगे .... लड्डू बांटे होंगे !!


आप क्यूँ नहीं सोचते ? :- आदत नहीं रही अब !


कुछ फूल भी ज़ख्म दे देते हैं यक़ीन मानों मेरा, दिल ज़ख़्मी हो सिर्फ़ खार से ज़रूरी तो नहीं. :- नींद तो दर्द के बिस्तर पे भी आ सकती है .... उनके आगोश में सर हो ....जरूरी तो नहीं !!


Too much!! :- ऑफ़ व्हाट ??


हिन्दू-मुस्लिम एकता की मिसाल: हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सब मेरे भाई :- भाई वाह !


सुपर स्टार (कार्टून धमाका) :- कहाँ है और कौन है ?


पसीना :- किसी का भी हो ...कीमती होता है !


स्वर्ग सिधार! :- कौन गया ?


यहां एलएलबी पास आइसक्रीम बेचता है :- मुस्कुराइए कि आप भारत में है !


माँ तू समझी नहीं :- तू माँ जो है !


करवा चौथ : एक सार्थक परिवर्तन !
:- अंत भला तो सब भला !


अलविदा... :- आखिर कह ही दिया !


लंबे लाल पहाड़ :- डराते है !


इस्लामिक आतंकवाद का नया चेहरा :"INTERNET जेहाद "
:- बात में दम है !


-------------------------------------------------------------------------------------------------

आज की ब्लॉग वार्ता बस यहीं तक .....अगली बार फिर मिलता हूँ एक और ब्लॉग वार्ता के साथ तब तक के लिए ......

जय हिंद !!

25 टिप्पणियाँ:

शुभकामनाएं शिवम् भाई !

आपके लिंक्स तो अच्छे हैं ही, साथ में आपकी एक लाईना और असरदार होते हैं।
आपकी मेहनत वाकई काबिले तारीफ़ है।

बॉस, कमेंट कर तो दिया लेकिन पता नहीं कोई परंपरा न टूट गई हो, ध्वस्त हो गई हो।

सुंदर वार्ता ....हार्दिक आभार आपका

गज़ब शिवम भाई
कमाल खजाना खोजी हो गुरु

अरे बाब दो दिन से लगा हुं यह टिपण्णी बक्स नही खुलता जल्दी से, क्या बात हे? चर्चा बहुत सुंदर लगी, धन्यवाद

सुंदर चर्चा शिवम भाई

आपका हार्दिक आभार

इन नकली उस्ताद जी से पूछा जाये कि ये कौन बडा साहित्य लिखे बैठे हैं जो लोगों को नंबर बांटते फ़िर रहे हैं? अगर इतने ही बडे गुणी मास्टर हैं तो सामने आकर मूल्यांकन करें।

स्वयं इनके ब्लाग पर कैसा साहित्य लिखा है? यही इनके गुणी होने की पहचान है। अब यही लोग छदम आवरण ओढे हुये लोग हिंदी की सेवा करेंगे?

पहले तो सुंदर सुंदर लिंक चुनते हैं .. उसमें इतनी अच्‍छी टिप्‍पणियां करते हैं .. लाजवाब बना देते हैं पोस्‍ट को आप .. धन्‍यवाद शिवम जी !!

आप सब का बहुत बहुत आभार !

शानदार चर्चा
उत्तम लिंक

हरि कृष्णा प्रसाद वेमुरू को भारत में इलेक्टॉनिक वोटिंग मशीन [ईवीएम] में खामी के बारे में जानना रोचक रहा..


अच्छी चर्चा.

शानदार चर्चा,आपकी मेहनत वाकई काबिले तारीफ़ है।

बहुत रोचक चर्चा....बढ़िया लिंक्स..

अंतिम पोस्ट ने चिंता में डाल दिया.... बहुत बढिया चर्चा....

लाजवाब,बहुत सुंदर |

अरे मुझे तो आज पता चला की मेरे ब्लॉग का भी लिंक है यहाँ पर .......धन्यवाद :D

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी में किसी भी तरह का लिंक न लगाएं।
लिंक लगाने पर आपकी टिप्पणी हटा दी जाएगी।

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More